User login

CAPTCHA
This question is for testing whether you are a human visitor and to prevent automated spam submissions.
Image CAPTCHA
Enter the characters shown in the image.

Shopping cart

There are no products in your shopping cart.

0 Items $0.00

Payment Processing

His Name is Nithyananda (Hindi)

मेंने अपनी व्यक्तिगत खोज द्वारा यह अनुभव किया है , कि संसार के लोग दुखी हैं, और वे सरल समाधानों और सत्यों को जाने विना स्वयं अपने और दूसरे लोगों के लिये दुख उत्पन्न करने की जटिल आदतें निर्मित करते रहते हैं, इसलिये में यहां उपलब्ध हूं और संसार के समक्ष खुलकर बिना किसी अपेक्षा के स्वयं को बाँट रहा हूँ। ताकि आप सभी लोग जीवन में आनन्दित हो कर जी सकें। और आनंद को दूसरों तक फैला सकें ।
यही कारण है, कि मैं अधिकतम लोगों तक पहुंचना चाहता हूं ताकि वे अपने और दूसरे लोगों के लिये और अधिक दूख निर्मित करना वंद करदें।

 
उत्पाद विवरण

कहा जाता है कि ज्ञान प्राप्त महापुरूष की जीवन-गाथा एक सामान्य पुरूष को भी ज्ञान प्राप्ति की ओर प्रेरित कर सकती है।
यह पुस्तक इस सहस्त्राब्दि के महान गुरू परमहंस नित्यानंद की जीवन-गाथा के विस्मय-प्रेरकों को उद्घाटित करती है।
ज्ञान-प्राप्ति की उनकी सहजयात्रा को रोचक तथ्यों एवं घटनाओं के माध्यम से प्रस्तुत किया गया है।
- प्रकाशक